gcc


❝दिल में हैं प्यार आपके लिए,
जागते है देर रात आपके लिए,
कभी हमसे दूर न जाना,
क्योकि जीते हैं सिर्फ आपके लिए।

आज दुआ करेंगे, आपके सपनो में हम आये,
और आप बस इतना दुआ करे, आपके husband बनकर,
आपकी ज़िन्दगी में हम आये।

मुझे रुला कर सोना तो तेरी आदत बन गई है,
जिस दिन मेरी आँख ना खुली तुझे नींद से नफरत हो जायगी। 

ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे,
ख्वाबों मे भी मिलता हूँ तो बात नही करती।

 सुना है वो मुझे भुल चुकी है,
और तो कुछ नहीं बस, उसकी हिंम्मत की दाद देता हूँ।

मेरी शायरी को लोग इतनी सिद्दत से पढते हैं,
जैसे इन सबने भी किसी अजनबी से मोहब्बत की हो।

वो आज फिर से मिले अजनबी बनकर,
और हमें आज फिर से मोहब्बत हो गई।

एक ये ख्वाहिश के कोई ज़ख्म न देखे दिल का,
एक ये हसरत कि कोई देखने वाला तो होता।

इक तेरे बगैर ही न गुजरेगी ये ज़िंदगी मेरी,
बता मैं क्या करूँ सारे ज़माने की ख़ुशी लेकर।

वो ज़हर देता तो दुनिया की नजरों में आ जाता,
सो उसने यूँ किया कि वक़्त पे दवा न दी।


Leave a Reply

Your email address will not be published.